हर सरकार सत्ता में आने के लिए नवयुवकों को रोजगार देने का करती है दावा पर हकीकत तो कुछ और ही है ….

हर सरकार सत्ता में आने के लिए नवयुवकों को रोजगार देने का करती है दावा पर यहाँ हालात कुछ और ही बयान कर रही है

उत्तर प्रदेश जनपद कुशीनगर विकास खण्ड दुदही के ग्राम सभा बाँसगावँ पूरब टोला के निवासी अपनी जीविका चलाने के लिए कबाड़े को बीनकर बेचते हैं और अपने परिवार का जीविका चलाते है
आपको बताते चलें कि बेरोजगारी आधुनिक समाज की मुख्य समस्या बन गई है । हमारे देश में भी यह बुरी तरह से फैल गई है । यह एक गंभीर समस्या है, जिसे दूर करने के लिए सक्षम नेतृत्व की आवश्यकता है ।
यदि हम समाज के ढाँचे में परिवर्तन से बचना चाहते हैं, तो इसके लिए इस समस्या के उचित और शीघ्र समाधान की आवश्यकता है । वैज्ञानिक उपलब्धियों के कारण जहाँ एक ओर पृथ्वी का आकार छोटा हो गया है, वहीं दूसरी ओर विशाल जनसंख्या के कारण इसका आकार बढ़ गया है ।
जनसंख्या वृद्धि के फलस्वरूप बेरोजगारी की समस्या भी दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है । रोजगार की सुविधाएं तो उतनी ही है, लेकिन जनसंख्या बढ़ती जा रही है । बेरोजगारी कई प्रकार की होती है । शिक्षित लोगों की बेरोजगारी की समस्या सबसे अधिक कष्टप्रद है ।
प्रत्येक वर्ष विद्यालयों, विश्वविद्यालयों से विद्यार्थियों की एक बड़ी भीड़ रोजगार के क्षेत्र में कदम रखती हैं । लेकिन उन सभी को जीविका उपलब्ध कराना एक बड़ी समस्या है । उनमें से कुछ प्रतिशत लोग ही जीविका प्राप्ति में सफल हो पाते है ।
बेरोजगारी के मुख्य कारण तीन हैं । सबसे प्रमुख कारण जनसंख्या वृद्धि है । वर्ष 1981-91 के दौरान भारत की जनसंख्या लगभग 16 करोड़ बढ़ी थी और यह निरंतर बढ़ रही है । दूसरा कारण हमारी शिक्षा प्रणाली है । इसका रूप अव्यवहारिक और सैद्धान्तिक है, जो विद्यार्थियों को किसी प्रकार की जीविका के लिए तैयार करने में सक्षम नहीं हैं ।
तीसरा कारण यह है कि हमारे देश की जनसंख्या में तो वृद्धि हो रही है, लेकिन उसी गति से औद्योगिक उन्नति और राष्ट्रीय आय में वृद्धि नही हो रही है । बेरोजगारी के प्रति समाज और राज्य के दृष्टिकोण में अंतर भी बेरोजगारी की समस्या को बढाते है ।
बेरोजगारी की समस्या के अंदर ही इसका समाधान निहित है । इसके लिए जनसंख्या की वृद्धि को रोकने के उपाय, शिक्षा-प्रणाली में सुधार और समाज का पुन: निर्माण शामिल है । इस समस्या से जूझने का एक कारगर उपाय बड़े पैमाने पर औद्योगीकरण को प्रोत्साहन देना है । औद्योगिक विकास से ही रोजगार के अवसर बढ़ सकते है ।

About Mohd. Akram

Mohd. Akram

Check Also

पटाखों से भरी पिकअप पकड़ी दो गिरफ्तार..

पटाखों से भरी पिकअप पकड़ी दो गिरफ्तार.. एंकर-हरदोई की सुरसा पुलिस ने एक पिकअप डाले …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हर सरकार सत्ता में आने के लिए नवयुवकों को रोजगार देने का करती है दावा पर हकीकत तो कुछ और ही है ….     |     आज़मगढ़ के मुबाकपुर में हुई शांति समिति की मीटिंग     |     आजमगढ़: कच्ची शराब के साथ एक धराया     |     आज़मगढ़: त्योहार के मद्देनजर पीस कमेटी की बैठक हुई सम्पन्न     |     पटाखों से भरी पिकअप पकड़ी दो गिरफ्तार..     |     आज़मगढ़: दो शातिर चोर गिरफ्तार, बरामद हुए ढेरों सामान     |     लोकसभा चुनाव में जीत हासिल कर कांग्रेस बनायेगी सरकार     |     आजमगढ़: अखिल भारतवर्षीय ब्राह्मण महासभा के मंडल उपाध्यक्ष मनोनीत हुए अभिषेक उपाध्याय     |     आज़मगढ़: बलात्कार का आरोपी भेजा गया जेल     |     आज़मगढ़: दारू पीना पड़ गया महंगा, बाइक हुई चोरी     |