विश्वविद्यालय के लिये अनशन के 33 वें दिन छात्रों ने ललकारा विश्वविद्यालय नहीं तो वोट नहीं …

विश्वविद्यालय के लिये अनशन के 33 वें दिन छात्रों ने ललकारा विश्वविद्यालय नहीं तो वोट नहीं …
05/02/2019 आज़मगढ़।
जनपद में राज्य आवासीय विश्वविद्यालय की मांग को लेकर युवा व प्रबुद्धजन आज़ 33वें दिन व रात अनिश्चिकालीन क्रमिक अनशन पर डटे रहे। आज़मगढ़ इंस्टीट्यूट ऑफ फाइन आर्ट और पालीटेक्निक के छात्रों ने अनशन का समर्थन किया।
     विश्वविद्यालय के लिये आयोजित क्रमिक अनशन को संबोधित करते हुए आज़मगढ़ इंस्टीट्यूट ऑफ फाइन आर्ट के निर्देशक संजय कुमार रॉय ने कहा कि आज़मगढ़ में विश्वविद्यालय की मांग को लेकर प्रदेश सरकार और आज़मगढ़ के जनप्रतिनिधियों की उदासीनता को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। भौतिकी के प्राध्यापक संजय श्रीवास्तव ने कहा कि आज़मगढ़ में विश्वविद्यालय के लिये चल रहे अभियान की गूंज गांव-गांव में हो रही है। जिसकी अनदेखी नहीं की जा सकती। पालीटेक्निक के छात्र अभय सिंह यादव ने कहा कि विश्वविद्यालय की लड़ाई में हम सबको जाति सम्प्रदाय व दलगत भावना से ऊपर उठकर लड़नी होगी। विश्वविद्यालय की लड़ाई को आगे बढ़ाना हम सबकी जिम्मेदारी है। शिवम सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय आज़मगढ़ का हक है भीख नहीं है और हम इसे लेकर रहेंगे। प्रखर सिंह ने जनपदवासियों का आह्वान किया कि विश्वविद्यालय के मुद्दे पर एकजुटता दिखायें। संदीप यादव ने कहा कि विश्वविद्यालय के मुद्दे को लेकर आज़मगढ़ जनपदवासी एकजुट हो चुके हैं। आशुतोष कुमार ने कहा कि यदि विश्वविद्यालय अभियान में वर्तमान समय मे जनपद के युवाओं ने हिस्सेदारी नहीं दिखाई तो भविष्य में आज़मगढ़ को जनता उनसे वैसे ही सवाल करेगी जैसे विगत 40 वर्षों का हिसाब तत्कालीन जनप्रतिनिधियों से लिया जाता रहा है। नागरिक एकता पार्टी के जिलाध्यक्ष अरविंद कुमार पाण्डेय ने जनपदवासियों का आह्वान किया कि विश्वविद्यालय अभियान में कमर कस कर कूद पड़ें। अभी नहीं तो कभी नहीं।
    दिन रात चलने वाले अनिश्चिकालीन क्रमिक अनशन के 33वें दिन सचिन कुमार, शिवानन्द यादव, एडवोकेट विमला यादव, आभा श्रीवास्तव, सतीश कुमार यादव, रमेश सिंह, ओंकार प्रजापति, आर्ष राय, हरिप्रसाद, श्यामबली यादव, रामजियावन यादव, राजाराम मौर्य, रामनारायण यादव, बृजलाल, कमलेश यादव, शम्भूनाथ राय, इंद्रजीत यादव, राकेश मौर्य, बालाजी भूषण, शिवकुमार सैनी डंक जी, दीपू खरवार, अमित कुमार सिंह, रामलगन विश्वकर्मा, रमेश मौर्य, शिवबोधन उपाध्याय, नजीर अहमद मंसूरी, राकेश गांधी, डॉ0सुजीत भूषण, प्रमोद सोनकर, दिलीप अग्रवाल, नूर बाबा आदि उपस्थित रहे।

About Mohd. Akram

Mohd. Akram